Menu

संबद्ध / अधीनस्थ कार्यालयों

संलग्न कार्यालय

विकास आयुक्‍त (हथकरघा) कार्यालय

विकास आयुक्‍त (हथकरघा) इस कार्यालय के प्रमुख हैं। यह कार्यालय हथकरघा क्षेत्र के संवर्धन और विकास के लिए कई योजनाएं क्रियान्वित करता है और राज्‍य सरकारों, सोसाइटियों, एनजीओ आदि के कार्यों में उनकी सहायता करता है। इसके अधीनस्‍थ संगठनों में बुनकर सेवा केंद्र (डब्‍ल्‍यूएससी), भारतीय हथकरघा प्रौद्योगिकी संस्‍थान (आईआईएचटी) और हथकरघा (उत्‍पादन के लिए वस्‍तुओं का आरक्षण) अधिनियम, 1985 क्रियान्वित करने के लिए प्रवर्तन तंत्र शामिल हैं।

पता:
विकास आयुक्‍त (हथकरघा) कार्यालय,
ई विंग, उद्योग भवन,  
नई दिल्‍ली  -   110 011

अधिक जानकारी ...


विकास आयुक्‍त (हस्‍तशिल्‍प) कार्यालय

विकास आयुक्‍त (हस्‍तशिल्‍प) इस कार्यालय के प्रमुख हैं। यह कार्यालय हस्‍तशिल्‍प के विकास और निर्यात को बढ़ावा देने के लिए कई योजनाएं क्रियान्वित करता है तथा विभिन्‍न विकासात्‍मक योजनाओं को क्रियान्वित करके यह राज्‍य सरकारों की सहायता करता है। इसके छ: क्षेत्रीय कार्यालय मुम्‍बई, कोलकाता, लखनऊ, चेन्‍नई, गुवाहाटी और नई दिल्‍ली में हैं।

पता:
विकास आयुक्‍त (हस्‍तशिल्‍प) कार्यालय,
वस्‍त्र मंत्रालय, भारत सरकार,
वेस्‍ट ब्‍लॉक 7, आर.के.पुरम, नई दिल्‍ली-110066

अधिक जानकारी ...


अधीनस्‍थ कार्यालय

वस्‍त्र आयुक्‍त का कार्यालय

वस्‍त्र आयुक्‍त के कार्यालय (टीएक्‍ससी) का मुख्‍यालय मुम्‍बई में है और इसके अमृतसर, नौएडा, इंदौर, कोलकाता, बैंगलुरू, कोयम्‍बटूर, नवी मुम्‍बई तथा अहमदाबाद में आठ क्षेत्रीय कार्यालय हैं। वस्‍त्र आयुक्‍त, मंत्रालय के मुख्‍य तकनीकी सलाहकार के रूप में कार्य करते हैं। वस्‍त्र आयुक्‍त का कार्यालय, तकनीकी-आर्थिक सर्वेक्षण करता है और वस्‍त्र उद्योग की सामान्‍य आर्थिक स्थिति के बारे में सरकार को सलाह देता है। वस्‍त्र आयुक्‍त के कार्यालय के विकासात्‍मक क्रियाकलाप मुख्‍य रूप से वस्‍त्र और क्‍लोदिंग उद्योग के सभी सेगमेंट की वृद्धि और विकास की योजना बनाने पर केंद्रित होते हैं। समूचे देश में छियालीस (46) विद्युतकरघा सेवा केंद्र (पीएससी) कार्य कर रहे हैं जिनमें से पंद्रह (15) केंद्र, वस्‍त्र आयुक्‍त के प्रशासनिक नियंत्रण में कार्य कर रहे हैं। ये पीसीएस वस्‍त्र और क्‍लोंदिग उद्योग की कुशल श्रमशक्ति की जरूरतों को पूरा करते हैं और विकेन्‍द्रीकृत विद्युतकरघा क्षेत्र को तकनीकी परामर्श/सेवा प्रदान करते हैं। विभिन्‍न वस्‍त्र असंधान संघों और राज्‍य सरकारों द्वारा चलाए जा रहे शेष इकत्‍तीस विद्युतकरघा सेवा केंद्रों के साथ भी वस्‍त्र आयुक्‍त का कार्यालय समन्‍वय स्‍थापित करता है और उनका मार्गदर्शन करता है। यह कार्यालय तकनीकी वस्‍त्रों, वस्‍त्र और पटसन उद्योग के लिए तकनीकी उन्‍नयन निधि योजना (टीयूएफएस), 30%, 20% और 15% मार्जिन मनी सब्सिडी योजना, ग्रुप वर्कशेड योजना, एकीकृत कौशल विकास योजना, विकेंद्रीकृत विद्युतकरघा क्षेत्र के लिए सामूहिक बीमा योजना, विद्युतकरघा क्षेत्र के विकास की एकीकृत योजना, साधारण विद्युतकरघों की स्‍व-स्‍थाने उन्‍नयन योजना और वस्‍त्र कामगार पुनर्वास निधि योजना (टीडब्‍ल्‍यूआरएफएस) जैसी विभिन्‍न विकासात्‍मक और संवर्धनात्‍मक योजनाओं को क्रियान्वित और मॉनीटर भी करता है।

पता:
वस्‍त्र आयुक्‍त का कार्यालय,
न्‍यू सीजीओ बिल्डिंग,
48-न्‍यू मैरिन लाइन्‍स, मुम्‍बई-400020,
दूरभाष:91-22001050
फैक्‍स: +91-22-22004693

अधिक जानकारी ...


पटसन आयुक्‍त का कार्यालय

पटसन आयुक्‍त के कार्यालय के कार्यों और क्रियाकलापों में ये शामिल हैं: (i) मशीनरी के विकास सहित पटसन उद्योग के नीति संबंधी मामलों पर मंत्रालय को तकनीकी सलाह देना (ii) राष्‍ट्रीय पटसन बोर्ड जैसे वस्‍त्र मंत्रालय के पटसन से संबंधित निकायों के माध्‍यम से विशेष रूप से विकेंद्रीकृत क्षेत्र में पटसन हस्‍तशिल्‍प और पटसन हथकरघे के संवर्धन के विकासात्‍मक क्रियाकलापों और ऐसे क्षेत्र में उद्यमशीलता तथा भारतीय पटसन उद्योग अनुसंधान संघ (आईजेआईआरए) और अन्‍य वस्‍त्र अनुसंधान संघों के माध्‍यम से आरएंडडी कार्यक्रमों को क्रियान्वित करना (iii) कच्‍चे पटसन और पटसन सामान, दोनों की कीमत संबंधी स्थिति पर नजर रखना और पटसन तथा मेस्‍ता उत्‍पादकों को एमएसपी सुनिश्चित करने के लिए भारतीय पटसन निगम के माध्‍यम से न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य (एमएसपी) को क्रियान्वित करना और (iv) घरेलू और निर्यात बाजार दोनों में पटसन के सामान के बाजार का पता लगाने के लिए इसके बाजार का संवर्धन करना। पटसन उत्‍पादन वाले जिन क्षेत्रों में पटसन से संबंधित क्रियाकलाप अपर्याप्‍त हैं और पूर्वोत्‍तर राज्‍यों सहित जिन राज्‍यों में पटसन का उत्‍पादन नहीं होता है वहां ऐसी गतिविधियों को पटसन और पटसन वस्‍त्र नियंत्रण आदेश, 2000 की धारा 4 के तहत प्रदत्‍त शक्तियों का प्रयोग करते हुए वस्‍त्र आयुक्‍त, डीजीएसएंडडी कीमतों पर बी.ट्विल बैगों की आपूर्ति करने के लिए पटसन मिलों को उत्‍पादन नियंत्रण आदेश (पीसीओ) जारी करता है। पीडीएस के माध्‍यम से वितरण के लिए एफसीआई सहित विभिन्‍न राज्‍य खाद्यान्‍नों की पैकेजिंग के लिए इन बैगों की जरूरत होती है। पटसन आयुकत, पटसन क्षेत्र के सामने आ रही समस्‍याओं और स्थिति के बारे में मंत्रालय को नियमित और समयबद्ध आधार पर अवगत कराता रहता है।

पता:
पटसन आयुक्‍त का कार्यालय
सीजीओ काम्‍प्‍लेक्‍स
तीसरी और चौथी मंजिल, एमएसओ बिल्डिंग
डीएफ ब्‍लॉक
साल्‍ट लेक सिटी
कोलकाता - 700064

अधिक जानकारी ...

Scroll To Top